Monday, March 25, 2013

Random Sher - Mirrors





इन्हें तोड़ दो ये आईने मेरे काम के नहीं हैं 
मेरे पास जब नहीं तुम भला क्या सिंगार करना।


No comments:

Google Web Search

You might also like

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...